मोटापे के विरुद्ध मेरा संघर्ष – III व्यायाम के विभिन्न प्रकार

व्यायाम यदि आप अपना आदर्श वजन बनाए रखना चाहते हैं तो व्यायाम आपकी मूल आदत होनी चाहिए, बिलकुल भोजन और नींद की तरह। इसलिए आपको व्यायाम में विविधता की जरूरत है; क्यूंकि कभी-कभी आप अपनी सबसे प्रिय शारीरिक गतिविधि से वंचित रह जाते हैं – चाहे ऐसा चोट लग जाने के कारण हो, या रात में हुई बारिश के कारण, चाहे         और पढ़ें …

एम्फायसेमा (फेफड़ों में अवरोध): रोकथाम और जटिलताएं

एम्फायसेमा (फेफड़ों में अवरोध) – रोकथाम – धूम्रपान बंद करें और रासायनिक धुएँ तथा धूल की चपेट में ना आएँ। अपने फेफड़ों की सुरक्षा के लिए मास्क लगाएँ।.

एम्फायसेमा (फेफड़ों में अवरोध): लक्षण और कारण

एम्फायसेमा (फेफड़ों में अवरोध) – लक्षण – श्वसनहीनता, दीर्घकालीन ब्रोंकाइटिस के साथ उत्पन्न हुआ बलगम, खाँसी, सायनोसिस. एम्फायसेमा (फेफड़ों में अवरोध) – कारण – धूम्रपान, वायु प्रदूषण.

एम्फायसेमा (फेफड़ों में अवरोध): घरेलु उपचार, इलाज़ और परहेज

एम्फायसेमा (फेफड़ों में अवरोध) – आहार – लेने योग्य आहार: कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, वसा, खनिजों, विटामिनों, रेशे और जल से युक्त स्वास्थ्यवर्धक आहार।
, एम्फायसेमा से पीड़ित व्यक्तियों के लिए सोडियम की कम मात्रा से युक्त चिकन सूप विशेष रूप से लाभकारी होता है। क्योंकि चिकन में सिस्टीन होता है, यह आपके शरीर से अतिरिक्त बलगम निकालता है। सिस्टीन के अतिरिक्त भोज्य स्रोतों में गेहूँ की बाली, लाल शिमला मिर्च, लहसुन, प्याज, ब्रोकोली और ब्रसेल्स स्प्राउट्स हैं।
, जैतून का तेल पित्ताशय और बड़ी आंत से अनुपयोगी पदार्थ और आँव को निकालने में सहायता करता है।
,

एम्फायसेमा (फेफड़ों में अवरोध): प्रमुख जानकारी और निदान

एम्फायसेमा फेफड़ों का दीर्घकालीन, बढ़ते जाने वाला रोग है और तब उत्पन्न होता है जब हवा के आने-जाने के मार्ग (अल्वेओली) की दीवारें, अपने भीतर से होकर गुजरने वाली सूक्ष्म रक्तवाहिनियों के साथ, नष्ट हो जाती हैं।.

हाइपरहाइड्रोसिस (अत्यधिक पसीना आना): रोकथाम और जटिलताएं

हाइपरहाइड्रोसिस (अत्यधिक पसीना आना) – रोकथाम – कैफीन की मात्रा कम करें। नियमित व्यायाम करें। डिओडोरेंट, गर्म स्नान, तंग कपड़े, शराब, धूम्रपान, ड्रग्स उपयोग में ना लें।.

हाइपरहाइड्रोसिस (अत्यधिक पसीना आना): प्रमुख जानकारी और निदान

हाइपरहाइड्रोसिस एक ऐसी स्थिति है जिसमें व्यक्ति को अत्यधिक और अनसोचा/अनचाहा पसीना आता है। पसीना तब भी आता है जब तामपान गर्म ना हो या आप व्यायाम ना कर रहे हों।.

हाइपरहाइड्रोसिस (अत्यधिक पसीना आना): लक्षण और कारण

हाइपरहाइड्रोसिस (अत्यधिक पसीना आना) – लक्षण – गीलापन, गीले, चिपचिपे हाथ. हाइपरहाइड्रोसिस (अत्यधिक पसीना आना) – कारण – निराशा, उत्तेजना, कुछ भोज्य पदार्थ, रोग की स्थितियाँ, मोटापा.

हाइपरहाइड्रोसिस (अत्यधिक पसीना आना): घरेलु उपचार, इलाज़ और परहेज

हाइपरहाइड्रोसिस (अत्यधिक पसीना आना) – आहार – लेने योग्य आहार: पानी अधिक मात्रा में पियें।
, औषधियुक्त चाय
, फल
,