बच्चों में जीईआरडी (GERD): लक्षण और कारण

बच्चों में जीईआरडी (GERD) – लक्षण – छाती में जलन। बार-बार आहार का लौटना। गला जाम होना या साँस की आवाज आना। उलटी और खाँसी।. बच्चों में जीईआरडी (GERD) – कारण – मोटापा, औषधियाँ, स्वास्थ्य स्थितियाँ। अत्यधिक खा लेना।.

बच्चों में जीईआरडी (GERD): घरेलु उपचार, इलाज़ और परहेज

बच्चों में जीईआरडी (GERD) – आहार – लेने योग्य आहार: ब्रेड और अनाज। फल और सब्जियाँ (सेब, केले, अंगूर, खरबूज, तरबूज, नाशपाती, आलूबुखारा, हरी पत्तेदार सब्जियाँ, ककड़ी, हरी फलियाँ, फूलगोभी, आलू)। दो वर्ष से कम आयु के सभी बच्चों को सम्पूर्ण दूध पीना चाहिए और पूर्ण वसायुक्त डेरी उत्पाद खाना चाहिए। यदि आपका बच्चा पूर्ण वसायुक्त डेरी उत्पादों को हजम नहीं कर पाता है तो आपको अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

बच्चों में जीईआरडी (GERD): रोकथाम और जटिलताएं

बच्चों में जीईआरडी (GERD) – रोकथाम – बच्चे को लम्बवत स्थिति में दूध पिलाएँ। हर बार दूध पिलाने के बाद, बच्चे को 20 से 30 मिनटों के लिए सीधा रखें। तंग या कसे हुए कपड़े ना पहनाएँ।.

बच्चों में जीईआरडी (GERD): प्रमुख जानकारी और निदान

गेस्ट्रो-इसोफेजिअल रिफ्लक्स डिजीज (जीईआरडी) एक आम स्थिति है जिसमें पेट का अम्ल, पेट के बाहर और आहारनलिका में रिस जाता है।.

एसिड पेप्टिक डिजीज: लक्षण और कारण

एसिड पेप्टिक डिजीज – लक्षण – जलन का एहसास, पेट में भारीपन, दर्द्युक्त पाचन, डकार, अधोवायु, मतली और उलटी। भूखा महसूस करना, वजन में गिरावट. एसिड पेप्टिक डिजीज – कारण – भोजन की अनुचित आदतें। एच पाइलोरी संक्रमण, धूम्रपान और शराब का सेवन.

एसिड पेप्टिक डिजीज: घरेलु उपचार, इलाज़ और परहेज

एसिड पेप्टिक डिजीज – आहार – लेने योग्य आहार: गाजर (क्योंकि इनमें बीटा-कैरोटीन होता है), लाल शिमला मिर्च और खुबानी क्योंकि ये आंत की परतों में स्थित घावों को ठीक करने में सहायता करते हैं।
, लीन मीट, दलिया, गिरियाँ, अंडे, डालें, एवोकेडो और विटामिन ई युक्त सब्जियाँ जो अंगों में परतों के घावों को ठीक करते हैं।
, लीन मीट, मछली, पोल्ट्री उत्पाद और मलाई निकले दुग्ध उत्पाद प्रोटीन से भरपूर होते हैं और ये आहारनली के वाल्व (विशेषकर मुंह या गर्दन से जुड़े हिस्से) को उत्प्रेरित करते हैं।
,

एसिड पेप्टिक डिजीज: रोकथाम और जटिलताएं

एसिड पेप्टिक डिजीज – रोकथाम – रेशे की उच्च मात्रा से युक्त फल और सब्जियाँ खाएँ। मसालेदार और जंक फ़ूड न लें। धूम्रपान न करें और शराब न पियें।.

एसिड पेप्टिक डिजीज: प्रमुख जानकारी और निदान

एसिड पेप्टिक डिजीज कई स्थितियों जैसे पेट और आंत में आहार लौटने का रोग (जीईआरडी), पेट में सूजन, पेट में छाले, आंत में छाले, आहारनली में छाले, ज़ोलिंगर एलिसन सिंड्रोम(जेडईएस) और मेकेल्स डाईवर्टीक्युलर अलसर के लिए सम्मिलित रूप से प्रयोग किये जाने वाला शब्द है।.

जीईआरडी: रोकथाम और जटिलताएं

जीईआरडी रोकथाम – आवश्यक स्वच्छता बनाये रखें। उचित तरीके से बना हुआ और रखा हुआ आहार लें। धूम्रपान त्यागें।.

जीईआरडी: घरेलु उपचार, इलाज़ और परहेज

जीईआरडी आहार – लेने योग्य आहार: फल जैसे कि सेब (ताजे और सुखाये हुए), सेब का रस, केले, नाशपाती, आडू, तरबूज और खरबूज, स्ट्रॉबेरी, अंगूर। सब्जियाँ जैसे कि भुना आलू, ब्रोकोली, पत्तागोभी, गाजर, सेम, मटर, एस्परेगस, लेट्यूस, शक्करकंद। बिना खाल का चिकन, अंडे की सफेदी, मछली (बिना अतिरिक्त वसा के)।