ल्यूकोडर्मा, विटिलिगो (सफ़ेद दाग): लक्षण और कारण

ल्यूकोडर्मा, विटिलिगो (सफ़ेद दाग) – लक्षण – त्वचा पर छोटा सफेद दाग जो समय के साथ बढ़ता जाता है। बालों का समय से पहले सफ़ेद होना और झड़ना। त्वचा का उत्तेजित होना। ठंडक के प्रति संवेदनशीलता, थकावट, दाग पर स्थित बालों का भी सफ़ेद हो जाना।. ल्यूकोडर्मा, विटिलिगो (सफ़ेद दाग) – कारण – मेलेनिन उत्पन्न करने वाली कोशिकाओं की क्षति। जलना, त्वचा की सूजन वाली स्थितियाँ। कैल्शियम की कमी, अनुवांशिकता, टैटू का प्रयोग.

ल्यूकोडर्मा, विटिलिगो (सफ़ेद दाग): घरेलु उपचार, इलाज़ और परहेज

ल्यूकोडर्मा, विटिलिगो (सफ़ेद दाग) – आहार – लेने योग्य आहार: विटामिन्स
, पालक
, सोया मिल्क
,

ल्यूकोडर्मा, विटिलिगो (सफ़ेद दाग): रोकथाम और जटिलताएं

ल्यूकोडर्मा, विटिलिगो (सफ़ेद दाग) – रोकथाम – स्वच्छ रहें। सूती वस्त्र पहनें। धूम्रपान, शराब, स्टेरोइड्स, लगाने की दवाएँ, खट्टी वस्तुएँ उपयोग में ना लें।.

ल्यूकोडर्मा, विटिलिगो (सफ़ेद दाग): प्रमुख जानकारी और निदान

ल्यूकोडर्मा या विटिलिगो (सफ़ेद दाग) एक लम्बे समय तक बने रहने वाली स्थिति है, जिसमें त्वचा पर सफ़ेद धब्बे उत्पन्न हो जाते हैं। यह ऐसी स्थिति है जिसमें आपकी त्वचा मेलेनिन की कमी से ग्रस्त होती है।.

पेनिक्युलाइटिस: रोकथाम और जटिलताएं

पेनिक्युलाइटिस रोकथाम – इस स्थिति को रोकने का कोई मार्ग नहीं है।.

पेनिक्युलाइटिस: घरेलु उपचार, इलाज़ और परहेज

पेनिक्युलाइटिस आहार – लेने योग्य आहार सब्जियों, फलों और साबुत अनाजों की अधिक मात्रा से युक्त स्वास्थ्यवर्धक आहार लें। इनसे परहेज करें ट्रांस फैटी एसिड और संतृप्त वसायुक्त आहार।

पेनिक्युलाइटिस: लक्षण और कारण

पेनिक्युलाइटिस लक्षण – संक्रमण, शारीरिक कारक, तीव्र गति से विकसित होने वाले विकार।. पेनिक्युलाइटिस कारण – संक्रमण, शारीरिक कारक, तीव्र गति से विकसित होने वाले विकार।.

पेनिक्युलाइटिस: प्रमुख जानकारी और निदान

पेनिक्युलाइटिस अर्थात पेनिक्युला की सूजन, जो कि रेशेदार-वसा के ऊतकों की परत होती है और त्वचा की बाहरी या उपरी परत के नीचे स्थित होती है।.

सोरायसिस: घरेलु उपचार, इलाज़ और परहेज

सोरायसिस आहार – लेने योग्य आहार: लीन और रेड मीट, अलसी, हरी सब्जियाँ,

सोरायसिस: रोकथाम और जटिलताएं

सोरायसिस रोकथाम – त्वचा पर कटने, छिलने और संक्रमण ना होने दें। तनाव ना करें। उत्प्रेरकों से दूरी बनाएँ। स्वच्छ रहें।.