रूबेला: लक्षण और कारण

लक्षण

चेहरे पर घावों के निशान होना जो शरीर और हाथ-पैरों तक फ़ैल जाते हैं और आमतौर पर तीन दिन बाद हलके पड़ जाते हैं।
  • 110 से कम बुखार होना।
  • सूजी हुई ग्रंथियाँ होना।
  • जोड़ों में दर्द होना।
  • सिरदर्द होना।
  • खुजली होना।
  • सर्दी जैसे लक्षण होना।
  • सूजी हुई लाल आँखें।
  • भूख की कमी।

कारण

रूबेला वायरस द्वारा उत्पन्न होता है। यह संक्रमित व्यक्ति के खाँसने या छींकने पर हवा द्वारा लाए गए कणों से फैलता है। यह संक्रमित व्यक्ति के निकट संपर्क या उसके द्वारा उपयोग में लाई गई वस्तुओं के प्रयोग से भी फैलता है।



मीसल्स, रूबेला, जर्मन मीसल्स, तीन दिनी मीसल्स, रूबेला वायरस, सूजी हुई ग्रंथियाँ, कोराइज़ा, जोड़ों में दर्द, सूजी हुई लसिका ग्रंथियाँ, लसिका ग्रंथियों में सूजन, टीकाकरण, एमएमआर टीका, वायरस संक्रमण, Rubella rog, Rubella ke lakshan aur karan, Rubella ke lakshan in hindi, Rubella symptoms in hindi,

Comments are closed.