एचआईवी (HIV) उपचार और विपरीत प्रभाव

एचआईवी ऐसा वायरस है जो शरीर के संक्रमणों और रोगों के विरुद्ध रक्षा करने वाले प्रतिरक्षक तंत्र पर आक्रमण करता है। यदि आपको एचआईवी है, तो आप अपने शरीर में एचआईवी के स्तर को कम करने के लिए दवाएँ ले सकते हैं। एचआईवी-प्रतिरोधक ये दवाएँ लेकर, आप अपने प्रतिरक्षक तंत्र को होने वाली क्षति को रोक सकते या कम कर         और पढ़ें …

एड्स (HIV-AIDS): घरेलु उपचार, इलाज़ और परहेज

एड्स (HIV-AIDS) – आहार – लेने योग्य आहार: फल और सब्जियाँ।
, साबुत अनाज।
, दालें।
,

एड्स (HIV-AIDS): रोकथाम और जटिलताएं

एड्स (HIV-AIDS) – रोकथाम – हर बार यौन संपर्क बनाते समय नया कंडोम इस्तेमान करें। यदि आपको एच आई वी है तो अपने यौन साथी को बताएँ। रक्त अथवा अंगदान ना करें।.

एड्स (HIV-AIDS): प्रमुख जानकारी और निदान

एड्स (अक्वायर्ड इम्यून डेफिशियेंसी सिंड्रोम) लम्बे समय तक रहने वाली, जीवन को संकट पहुँचा सकने में अत्यंत सक्षम स्थिति है जो ह्यूमन इम्यूनोडिफिशिएंसी वायरस (एचआईवी) से होती है।.

एड्स (HIV-AIDS): लक्षण और कारण

एड्स (HIV-AIDS) – लक्षण – बुखार, ठिठुरन, जोड़ों में दर्द, माँसपेशियों में दर्द. एड्स (HIV-AIDS) – कारण – यौन संपर्क। शरीर में सुई के संपर्क से जाने वाली वस्तुओं द्वारा। रक्त चढ़ाना।.